HBC Headlines

Search
Close this search box.

माफिया अशरफ के ससुराल वालों ने 50 करोड़ की वक्फ की प्रॉपर्टी कर ली हजम, अशरफ की पत्नी, सालों और प्रधान के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बरेली। माफिया अतीक अहमद के भाई अशरफ की पत्नी जैनब, अशरफ के साले सद्दाम और जैद मास्टर हटवा के ग्राम प्रधान शिबली और मुतवल्ली व उसकी पत्नी सहित एक अन्य के खिलाफ पुरामुफ्ती थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। आरोप है कि अशरफ के ससुराल पक्ष ने मुतवल्ली के साथ मिल कर वक्फ की प्रॉपर्टी पर न केवल कब्जा किया बल्कि उस पर अवैध निर्माण करके बेचने भी लगे।

प्रयागराज के पुरामुफ्ती के सल्लाहपुर में संपत्ति वक्फ नम्बर 67 में दर्ज है। इसमे कई बीघा जमीन है। इसकी कीमत 50 करोड़ है। मुख्य मालिकान सय्यद मोहम्मद एजाज ने इन संम्पत्तियों को वक्फ के सुपुर्द किया था। इन सम्पत्तियों की देखरेख के लिए वक्फ की तरफ से मोहम्मद अशियाम को मुतवल्ली नियुक्त किया गया था। बीमारी की वजह से पीड़ित माबूद शहर के बाहर इलाज करा रहा था। इसी का फायदा उठा कर अशरफ के साले जैद मास्टर, सद्दाम शिबली प्रधान और मुतवल्ली असियाम और उसकी पत्नी जीनत ने कूट रचित दस्तावेज तैयार कर जमीनों को बेच दिया। जमीन पर अवैध निर्माण भी भू माफिया करने लगे। शिकायतकर्ता माबूद जब वापस आया तो देखा की वक्फ की 50 करोड़ कीमत की जमीनों को अशरफ के ससुराल पक्ष के लोगों ने झूठे बैनामे और कूट रचित दस्तावेज तैयार करा कर बेच दिया। वक्फ की संम्पत्तियों को बेचने की शिकायत मंडलायुक्त और डीएम से भी की गई थी। अफसरों ने इस मामले की जांच कराई तो आरोप सही पाए गए। इसके बाद शिकायतकर्ता को अशरफ के सालों और शिबली प्रधान व कुछ अज्ञात दबंगो द्वारा लगातार जान से मारने की धमकी दी जाती रही। आरोप है कि इन्ही वक्फ की जमीनों पर मकान दुकान बनवा कर अशरफ के ससुराल में पैसा पहुंचाया जा रहा है। अवैध निर्माण ध्वस्त करने और जमीन का कब्जा वापस वक्फ को सौंपने की पैरवी न करने को लेकर अशरफ के साले और हटवा के कई बादमश पीड़ित को लगातार डराते धमकाते आ रहे थे। पीड़ित की शिकायत पर आज पुरामुफ्ती थाने में मुतवल्ली मोहम्मद असियाम उसकी पत्नी जीनत अशरफ की पत्नी जैनब, अशरफ के साले जैद और सद्दाम, हटवा के प्रधान शिबली और तारिक के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468, 471, 506 की धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। माफियाओं के रिश्तेदारों ने 50 करोड़ की वक्फ की संम्पत्तियों को बेच कर लगातार खाये जा रहे थे। अब मामला खुलने पर सरकारी अमला भी हरकत में आ गया। अब जल्द ही वक्फ की जमीनों पर अवैध निर्माण पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई हो सकती है। वक्फ की इतनी बड़ी संपत्ति को माफिया के परिवार डकार गए, जो मुस्लिम कौम के उत्थान के काम आनी थी।

HBC Headlines
Author: HBC Headlines

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज