HBC Headlines

Search
Close this search box.

यूक्रेन रूस ने सिखाया कि अब लंबे चलेंगे दो देशों के बीच युद्ध, हर चुनौती से निपटने में सक्षम एयरफोर्स बन रहा आत्मनिर्भर

बरेली। वायुसेना हर चुनौती से निपटने और दुश्मन का मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम है। भविष्य की तैयारी के साथ वायुसेना के कदम आत्मनिर्भरता की ओर तेजी से बढ़ रहे हैं। मीडिया से बेहतर सामंजस्य और एयरफोर्स के बारे में अधिक समझ को बेहतर बनाने के लिए त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन पर गुरुवार को मीडिया ओरियंटेशन प्रोग्राम आयोजित किया गया।

त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन ने गिनाई वायु सेवा की उपलब्धियां और गौरवशाली अतीत

मीडिया ओरिएंटेशन प्रोग्राम के मुख्य अतिथि त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन के ग्रुप कमांडर ग्रुप कैप्टन एसके शर्मा थे। त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन के ऑफिसर मनोज मिश्रा, डिफेंस पीआरओ शांतनु प्रताप सिंह, त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन के पीआरओ कमल विवेक त्यागी ने मीडिया के साथ एयरफोर्स की स्थापना से अब तक के गौरवशाली अतीत चर्चा की। उन्होंने कहा कि मीडिया सशस्त्र बलों के सकारात्मक प्रयासों को प्रदर्शित करने में फोर्स एमप्लीफायर रहा है। उन्होंने आग्रह किया कि एक सहयोगात्मक दृष्टिकोण की आवश्यकता है। जिससे सुनिश्चित होगा कि देशवासियों के साथ सटीक समय पर जानकारी साझा की जाए। उन्होंने त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन की महत्वपूर्ण क्षमताओं, उपलब्धियां और राष्ट्र निर्माण की दिशा में निभाई जा रही भूमिका को भी सामने रखा। उन्होंने कहा कि रूस यूक्रेन युद्ध से हमने सीखा है कि आने वाले समय में युद्ध लंबे होने वाले हैं। परिस्थितियां दर्शाती हैं कि कोई भी देश एक दूसरे को पूरी तरह से सहयोग नहीं देगा। इस वजह से एयरफोर्स और अधिक आत्मनिर्भर और हर सेक्टर में मजबूत होने की दिशा में अग्रसर है। एयरफोर्स को इसमें सरकार की आत्मनिर्भर योजना का काफी लाभ मिल रहा है। हम बड़े स्तर पर विमान, आयुध निर्माण की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

एयर फोर्स स्टेशन के बाहर नाले और अवैध अतिक्रमण स्टेशन की सुरक्षा को खतरा

एयरफोर्स के सिक्योरिटी ऑफिसर प्रियंक पांडे ने बताया कि त्रिशूल एयरफोर्स स्टेशन के बाहर बड़ा सा नाला है। नाले को ढका नहीं गया है। इससे सुरक्षा को खतरा है। संक्रमण फैलने की आशंका है। इस मामले में पुलिस प्रशासन से उनकी बात हुई है। समस्याओं को प्रमुखता से उठाया गया है । ट्रैफिक पुलिस की मदद से हेल्थ एमरजेंसी के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाने की बात एसपी ट्रैफिक से हो चुकी है। डीएम, कमिश्नर आईजी और एसएसपी को अवैध अतिक्रमण के बारे में जानकारी दी गई है। उन्होंने ड्राइव चलाकर अतिक्रमण हटाने का आश्वासन दिया है। नगर आयुक्त ने नाले को कवर करने की मांग की गई थी। जिस पर उन्होंने अपनी सहमति व्यक्त की है।

एयरफोर्स ने बनाया रैपिड एक्शन ग्रुप, फोटो खींचकर करते हैं अपलोड

एयरफोर्स के की सिक्योरिटी ऑफिसर ने बताया कि आईजी डा राकेश सिंह के निर्देश पर रैपिड एक्शन ग्रुप बनाया गया है। इसमें त्रिशूल एयर फोर्स स्टेशन के चारों ओर होने वाली अवैध गतिविधियों अवैध निर्माण से संबंधित फोटो खींचकर ग्रुप पर अपलोड कर देते हैं। इसके बाद सभी विभाग इस मामले में अपना सहयोगात्मक रवैया अपनाते हैं। समय रहते सूचना मिलने से तेजी से कार्रवाई हो रही है।

HBC Headlines
Author: HBC Headlines

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज