HBC Headlines

Search
Close this search box.

238 हेक्टेयर में बीडीए ग्रेटर बरेली कॉलोनी को विकसित करेगा

बरेली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शहर के लोगों को आधुनिक सुख सुविधाओं से सुसज्जित आवासीय और व्यावसायिक कॉलोनी विकसित करने के लिए बीडीए ने तैयारी शुरू कर दी है। 238 हेक्टेयर में बीडीए ग्रेटर बरेली कॉलोनी को विकसित करेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शहरी विस्तारीकरण योजना के अन्तर्गत बरेली में विकसित की जा रही आवासीय योजना के पंजीकरण प्रारंभ कर दिए गए हैं। मंडलायुक्त सौम्या अग्रवाल के निर्देश पर बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगेंद्र सिंह ने टेंडर प्रक्रिया भी शुरू करवा दी है। ग्रेटर बरेली को 13 सेक्टर में विभाजित किया गया है। अल्ट्रा मॉडर्न सिटी की तर्ज पर बनाई जा रही कॉलोनी की प्लानिंग आर्किटेक्ट सुमित अग्रवाल द्वारा कराई जा रही है। इस योजना में 5000 आवासीय और व्यावसायिक भूखंड होंगे। भूखंडों को लेने के लिए अभी से लोगों में होड़ मची है। 300 से ज्यादा लोग भूखंड आवेदन के लिए संपर्क कर चुके हैं।

ग्रेटर बरेली का आकर्षण होंगे एम्यूजमेंट पार्क कम्युनिटी सेंटर और मल्टीप्लेक्स

बरेली विकास प्राधिकरण की ग्रेटर बरेली आवास परियोजना का खाका आर्किटेक्ट सुमित अग्रवाल ने तैयार किया है। आवासीय योजना 60 मीटर चौड़े बरेली बीसलपुर मार्ग और 80 मीटर चौड़े लखनऊ दिल्ली मार्ग पर स्थित है। योजना में 45 मीटर और 30 मीटर चौड़ी जोनल रोड होगी। इसके अलावा 18 मीटर अंदर सड़कों की चौड़ाई होगी। 132 केवीए का विद्युत उप केंद्र प्रस्तावित किया गया है। बिजली की लाइने भूमिगत डाली जाएंगी। इससे सभी को निर्बाध विद्युत आपूर्ति हो और किसी को किसी प्रकार का खतरा ना हो। बच्चों के आकर्षण के लिए ग्रेटर बरेली में एम्यूज़मेंट पार्क होगा। कम्युनिटी सेंटर भी स्थापित किया जा रहा है। इसके अंदर होटल अस्पताल विभिन्न स्तर के शैक्षिक संस्थान साइबर सिटी मल्टीप्लेक्स भी विकसित किया जा रहा है।

ग्रेटर बरेली में स्पोर्ट स्टेडियम और सेंट्रल पार्क बढ़ाएंगे कॉलोनी की शोभा

बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह ने बताया परियोजना के बीच में विशाल स्पोर्ट्स स्टेडियम बनाया जाएगा। इसके साथ लोगों को स्वच्छ वातावरण उपलब्ध कराने के लिए सेंट्रल पार्क और नेवर हुड पार्क भी प्रस्तावित किए गए हैं। योजना में बरेली विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के आवास भी डिजाइन किए गए हैं। योजना के क्रियान्वयन और अनुश्रवण की निगरानी बरेली विकास प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारी करेंगे। आवास योजना के आधारभूत ढांचे के विकास के साथ बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन भी होगा। योजना के निकटवर्ती गांव में भी विकास प्राधिकरण विकास कार्य कराएगा। इससे आसपास के गांव के लोग भी योजना में सहभागी बनेंगे। उपाध्यक्ष ने बताया कि बरेली विकास प्राधिकरण देश का पहला ऐसा प्राधिकरण है जो किसानों से आपसी सहमति के साथ भूमि खरीदकर आवासीय योजना विकसित कर रहा है।

मुख्यमंत्री योगी ने दी थी मंजूरी, जारी किए 100 करोड़, 350 लोग भूखंड के लिए कर चुके संपर्क

पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्रेटर बरेली को विकसित करने के लिए मंजूरी दी थी। उसके लिए 100 करोड़ का बजट जारी किया था। ग्रेटर बरेली आवासीय योजना आरंभ होने के पहले दिन ही 350 से अधिक लोगों ने भूखंड आवंटन के लिए संपर्क किया है। योजना में भूखंड आवंटन के लिए लोगों में खासी दिलचस्पी है। वह इस बारे में बरेली विकास प्राधिकरण पहुंचकर जानकारी कर रहे हैं।

HBC Headlines
Author: HBC Headlines

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज